• Thu. Sep 29th, 2022

बुजुर्गों की बुढ़ापा पेंशन बनवाने को लेकर समाजसेवी संजय बड़वासनी ने अपने शरीर से रक्त निकलवा कर मुख्यमंत्री के नाम लिखा पत्र

BySagar Mehla

Sep 23, 2022

बुजुर्गों की पेंशन काटे जाने और नई पेंशन समय पर ना बनने के विरोध में सोनीपत के मिनी सचिवालय में संजय बड़वासनी ने अपने शरीर से रक्त निकलवा कर खून से मुख्यमंत्री के नाम पत्र लिखा है और पत्र में बुजुर्गों की पेंशन में हो रही परेशानी को जल्द से जल्द दुरुस्त कराने की मांग की है। मिनी सचिवालय बुजुर्गों को लेकर पहुंचे संजय बड़वासनी का कहना है कि जहां बुजुर्गों की परिवार पहचान पत्र में आय 2 लाख  दिखाई गई है और जिसके चलते उनकी पेंशन काट दी गई है ।काफी बुजुर्ग ऐसे हैं ,जो पेंशन पर ही अपना जीवन बसर करते हैं और पेंशन काटे जाने के कारण उनके लिए रोजी-रोटी के लाले पड़ गए हैं ।

वही कई बुजुर्ग ऐसे भी है जो सालों से अपने दस्तावेज पूरे कर ऑनलाइन प्रक्रिया पूरी कर चुके हैं और विभाग में बार-बार पेंशन बनवाने को लेकर चक्कर काट रहे हैं मौके पर कई बुजुर्गों ने भी पेंशन ना बनने को लेकर अपना दर्द रखा है ।वहीं प्रदेश सरकार द्वारा आधार कार्ड के मुताबिक के 4 साल पूरे होने के तुरंत बाद ही पेंशन बनाए जाने की घोषणा पिछले दिनों की थी और बावजूद इसके सोनीपत में अधिकारियों की लापरवाही से बुजुर्ग धक्के खाने को मजबूर है।

जब एक बार बार रे कार्यालय के चक्कर काटने के बाद भी पेंशन नहीं बनी तो संजय बड़वासनी ने बुजुर्गों के लिए अनोखे ढंग से न केवल प्रोटेस्ट किया बल्कि मुख्यमंत्री को अपने रक्त से पत्र लिखा और ज्ञापन भेजा है। अब देखना यह होगा कि बुजुर्गों की पेंशन कब तक बन पाती है और जिन बुजुर्गों की पेंशन काटी गई है। वह कब तक सुचारू हो पाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.