July 16, 2024

पंजाब की सीमा के साथ लगते हरियाणा के गांव में चिट्टे जैसे घातक नसों पर रोक लगाने के लिए पुलिस अभियान सफल हो रहा है  रतिया क्षेत्र के ग्राम रताखेड़ा को पुलिस ने गांव वालों की मदद से करवाया नशा मुक्त एसपी सुरेंद्र सिंह भोरिया ने 2 महीने पहले गांव के लोगों से की थी महापंचायत पंचायत के दौरान बनाई थी रणनीति गांव में रात को गांव के लोग देते हैं ठीकरी पहरा

खेल के आयोजन पर हुए समापन समारोह में पहुंचे जिला पुलिस कप्तान सुरेंद्र सिंह भोरिया ने गांव के लोगों की जमकर की सराहना कहां गांव के लोगों के प्रयास और पुलिस के सहयोग से गांव से नशे का हुआ है खात्मा कहां नशा तस्करों की जगह समाज में नहीं बल्कि जेल की सलाखों के पीछे वही गांव के लोगों ने भी कहां की पुलिस के सहयोग से ही अभियान सफल हुआ है।

वही गांव के लोगों ने पुलिस प्रशासन की जमकर सराहना की और कहा कि पुलिस प्रशासन के सहयोग से और गांव वालों ने जो अपने स्तर पर गांव में ठीकरी पहरा लगाया और युवा पीढ़ी को जागरुक किया और गांव में खेलों का आयोजन किया जिसको लेकर 95% गांव को नशा मुक्त किया है इसके लिए उन्होंने पुलिस प्रशासन का भी धन्यवाद किया।

गौरतलब है अगर पंजाब के उस पार से हरियाणा में चिट्टे जैसे घातक नसों की बड़े स्तर पर तस्करी होती और सिरसा फतेहाबाद पंजाब की सीमा के साथ लगते गांव में नसों का काफी प्रचलन है और युवा पीढ़ी इन नसों में फंसकर अपनी जिंदगी तबाह कर रही है वहीं जिला फतेहाबाद पुलिस द्वारा उठाया गया यह कदम काफी हद तक सफल होता दिख रहा है जिसमें गांव वालों का पुलिस प्रशासन को भी बहुत बड़े स्तर पर सहयोग मिल रहा है और यह मुहिम अब रंग लाने लगी है ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *