• Thu. Sep 29th, 2022

Sagar Mehla

  • Home
  • खालिस्तानी संगठन से जुड़े चारों आतंकि आठ दिन के रिमांड पर

खालिस्तानी संगठन से जुड़े चारों आतंकि आठ दिन के रिमांड पर

सोनीपत में खालिस्तानी संगठनों से जुड़े चार आतंकियों को पुलिस ने रविवार को ड्यूटी मजिस्ट्रेट एसीजेएम प्रिया गुप्ता की कोर्ट में पेश किया जहां से चारों को आठ दिन के…

डाक विभाग द्वारा अस्थाई कर्मचारी को हटाए जाने पर भारतीय मज़दूर संघ ने जताया कड़ा विरोध

डाक विभाग द्वारा ग्रामीण डाक सेवकों के खाली पदों पर अस्थाई कर्मचारियों के द्वारा दी जाने वाली सेवाएं बन्द करने पर शाखा डाक घरों का कार्य बूरी तरह से प्रभावित…

22 ग्राम स्मैक सहित आरोपी काबू

पुलिस प्रवक्ता चमकौर सिंह ने बताया कि पुलिस अधीक्षक कमलदीप गोयल के निर्देश अनुसार कार्य करते हुए एंटी नारकोटिक्स सेल की टीम ने 22 ग्राम स्मैक के साथ एक युवक…

राज्यपाल दत्तात्रेय ने किया सुल्तानपुर नेशनल पार्क का भ्रमण

गुरुग्राम ज़िला के सुल्तानपुर नेशनल पार्क का भ्रमण करने के उपरांत राज्यपाल  बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि हरियाणा सरकार नैचुरल फ़ोरेस्ट्री और ग्रीनरी को संतुलित ढंग से विकसित कर रही है।…

फरियादी से बोले गृह मंत्री अनिल विज ‘मेरे द्वारा मार्क की गई शिकायत पर अवश्य होगी कार्रवाई’

हरियाणा के गृह मंत्री श्री अनिल विज ने शनिवार अपने आवास पर अलग-अलग क्षेत्रों से आए सैकड़ों लोगों की समस्याओं को सुना और संबंधित अधिकारियों को इनके समाधान करने के…

सरकार द्वारा आठवीं की परीक्षा का अधिकार बोर्ड को देकर एकतरफा फैसला लेना गलत: कुलभूषण शर्मा

नेशनल इंडिपेंडेंट स्कूल्स अलाइंस (निसा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. कुलभूषण शर्मा ने कहा कि हरियाणा शिक्षा बोर्ड राज्य के दूसरे बोर्डों से जुड़े प्राइवेट स्कूलों में आठवीं की वार्षिक परीक्षा लेने का दबाव बना रहा है, जोकि सरासर गलत है। प्रदेश के प्राइवेट स्कूल एससीईआरटी द्वारा बोर्ड को आठवीं की परीक्षा लेने के लिए मान्यता देने के एकतरफा फैसले का विरोध कर रहे हैं। क्योंकि सरकार ने प्राइमरी कक्षाओं की परीक्षा के लिए जिस (एससीईआरटी) शैक्षिक संस्था को जिम्मेदारी सौंपी है, वह इतनी कमजोर कैसे हो सकती है कि अपने स्तर पर परीक्षा का आयोजन नहीं करवा सकती। सरकार का यह कदम बच्चों को शिक्षा की गुणवत्ता को गिराने वाला है। सरकार मात्र पैसा कमाने के लिए बच्चों के भविष्य और शिक्षा की गुणवत्ता से खिलवाड़ कर रही है। सरकार और बोर्ड की निगाह प्राइवेट स्कूलों में आठवीं की परीक्षा आयोजित करवाकर करीब 40 करोड़ का राजस्व इकट्ठा करने में लगी हुई है। यह फैसला भी एेसे समय में लिया जा रहा है, जब प्राइवेट स्कूल और बच्चे कोरोना की तीसरी लहर के दौर से गुजर रहे हैं और बच्चे परीक्षा देने के लिए पूरी तरह से तैयार भी नहीं हैं।  

हरियाणा शिक्षा बोर्ड भिवानी आठवीं के बोर्ड एग्जाम की आड़ में एकत्रित करना चाहती है करोड़ों रुपए: सौरभ कपूर

हरियाणा शिक्षा बोर्ड भिवानी द्वारा हरियाणा में चल रहे सभी प्राइवेट व सरकारी स्कूलों की आठवीं क्लास में पढ़ने वाले बच्चों के बोर्ड एग्जाम लिए जाने के फैसले के खिलाफ…

युवराज सिंह को SC/ST एक्ट में राहत नहीं, हाईकोर्ट ने एफआईआर रद्द करने की मांग की खारिज

  पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह को पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने एससी/एसटी एक्ट में राहत देने से साफ इनकार कर दिया है. कोर्ट ने एफआईआर रद्द करने की मांग भी खारिज कर…

ITI में करवाए जाने वाले कोर्सों की संख्या बढ़ाएगी सरकार

कौशल विकास विभाग के मंत्री मूलचंद शर्मा ने बताया कि प्रदेश की औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (ITI) में करवाए जाने वाले कोर्सों की संख्या बहुत जल्द ही बढ़ाई जाएगी। उन्होंने बताया…

डा. आरके अनेजा हरियाणा मेडिकल काउंसिल के अध्यक्ष मनोनित

हरियाणा के सीनियर डॉक्टरों में शुमार डाक्टर आरके अनेजा को हरियाणा मेडिकल काउंसिल का अध्यक्ष मनोनीत किया गया है। उन्हें लगातार दूसरी पर यह जिम्मेदारी सौंपी गई है। नवनियुक्त अध्यक्ष…